ताज़ा खबर
Otherबिज़नेस

सुरक्षित संपत्ति के रूप में उभर रहा गोल्ड

समाचार प्रहरी, मुंबई। कोरोना महामारी के कारण पैदा हुई अनिश्चितता ने सेफ-हैवन संपत्ति के रूप में गोल्ड में निवेश की डिमांड बढ़ाई है। सोमवार को स्पॉट गोल्ड की कीमतें 0.7 प्रतिशत बढ़कर 1754.5 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुई थीं। कोरोनो वायरस के कारण अमेरिका और चीन में समस्याएं गहरा रही हैं।

एंजल ब्रोकिंग लिमिटेड के नॉन-एग्री कमोडिटीज एंड करेंसीज के चीफ एनालिस्ट प्रथमेश माल्या ने बताया कि महामारी के कारण निवेशकों ने अनिश्चितता को देखते हुए सेफ-हैवन संपत्ति के रूप में सोने में निवेश का विकल्प पसंद कर लिया है। इसके अलावा, अमेरिकी फेडरल रिजर्व की रिपोर्टों ने भी निराशाजनक तथ्य की ओर इशारा किया है कि कोरोना से बेरोजगारी बढ़ सकती है। दुनियाभर के केंद्रीय बैंकों ने व्यावहारिक प्रोत्साहन और उपायों ने पीली धातु की कीमतों को सपोर्ट किया है।

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर डब्ल्यूटीआई क्रूड की कीमतें 1.79 प्रतिशत बढ़कर 40.5 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुई हैं। ओपेक ने उत्पादन में कटौती को जारी रखने का फैसला कायम रखा है। हालांकि, कच्चे तेल के लाभ सीमित ही रहे, क्योंकि चीन जैसे कई स्थानों पर, कोरोनो वायरस के नए मामले सामने आए हैं। पहले से ही दुनियाभर में हवाई और सड़क यातायात पर प्रतिबंध की वजह से कमजोर मांग ने तेल की कीमतों में वृद्धि को सीमित कर दिया है।

Related posts

उत्तर प्रदेश की जेलों में सबसे ज्यादा विचाराधीन कैदी

Prem Chand

टीसीएल के साथ अपने बुनियादी सुविधाओं में वृद्धि करेगा ब्लू डार्ट

Prem Chand

पाकिस्तान में ईशनिंदा पर बैंक प्रबंधक की हत्या, सुरक्षाकर्मी को मौत की सजा

Prem Chand

वर्ल्ड बैंक ने कहा- ‘फिर खतरे में है ग्लोबल इकोनॉमी’

Prem Chand

28 हजार लोगों को रोजगार देगा टाटा ग्रुप

samacharprahari

नोटबंदी ने अर्थव्यवस्था को ‘बर्बाद’ कियाः राहुल गांधी

samacharprahari