ताज़ा खबर
OtherTop 10टेकताज़ा खबरबिज़नेसभारत

मोबाइल डेटा स्पीड में नेपाल, श्रीलंका और पाकिस्तान से पिछड़ा भारत: ऊकला

भारत में मोाइल स्पीड 12.07 एमबीपीएस, ब्रॉडबैंड की ऐवरेज डाउनलोड स्पीड 46.47 एमबीपीएस

मुंबई। डिजिटल इंडिया के दौर में भारत की दूरसंचार कंपनियां 5जी की स्पीड को देश में लॉन्च करने की जुगत में हैं, लेकिन मोबाइल इंटरनेट स्पीड के मामले में पाकिस्तान और नेपाल से भी पीछे है। पिछले महीने के मुक़ाबले मोबाइल स्पीड में भारत काफी नीचे आ गया है। यह रिपोर्ट नेट स्पीड टेस्ट पर नजर रखनेवाली फ़र्म ऊकला ने जारी की है। ऊकला की मोबाइल इंटरनेट स्पीड के ग्लोबल इंडेक्स में भारत फिलहाल 131वें नंबर पर है। कंपनी ने सितंबर महीने का आंकड़ा जारी किया है। पहले स्थान पर काबिज साउथ कोरिया में 121 एमबीपीएस की स्पीड मिलती है, जबकि चीन 113 एमबीपीएस की स्पीड के साथ दूसरे पायदान पर है। भारत में मात्र 12.07 एमबीपीएस की तथाकथित स्पीड मिल रही है। वास्तव में मोबाइल स्पीड 10 केबी भी नहीं होती।

मोबाइल इंटरनेट स्पीड पर नजर रखनेवाली Ookla कंपनी की रिपोर्ट के मुताबिक़, भारत में मोबाइल स्पीड काफी कम है। ग्लोबल इंडेक्स में भारत 131वें स्थान पर है, जबकि फिक्स्ड ब्रॉडबैंड स्पीड के मामले में भी भारत ग्लोबल इंडेक्स में 70वें नंबर पर है। पिछले महीने की तुलना में मोबाइल स्पीड के मामले में दो पायदान नीचे चला गया है, जबकि फिक्स्ड ब्रॉडबैंड में दो पायदान ऊपर गया है। Ookla के मुताबिक़ भारत में ऐवरेज मोबाइल इंटरनेट की डाउनलोड स्पीड 12.07 Mbps रही है, जबकि फिक्स्ड लाइन ब्रॉडबैंड की ऐवरेज डाउनलोड स्पीड 46.47 Mbps है।

ग़ौरतलब है कि मोबाइल इंटरनेट ग्लोबल स्पीड इंडेक्स में भारत इस वक़्त पाकिस्तान, श्रीलंका और नेपाल जैसे अपने पड़ोसी देशों से नीचे है, लेकिन फिक्स्ड लाइन ब्रॉडबैंड स्पीड में भारत पाकिस्तान से ऊपर है। 138 देशों की स्पीड लिस्ट में भारत को 131वां स्थान मिला है।

Ookla स्पीडटेस्ट ग्लोबल इंडेक्स के मुताबिक़ सितंबर 2020 में ग्लोबल ऐवरेज मोबाइल डाउनलोड स्पीड 32.6Mbps की रही है, जबकि भारत में स्पीड 12.07 ही है। ग्लोबल मोबाइल ऐवरेज अपलोड स्पीड जहां 11.22 Mpbs है, जबकि भारत में यह 4.31 Mbps ही है।

ग्लोबल इंडेक्स में कौन किस पायदान पर है
ग्लोबल स्पीड इंडेक्स की सितंबर 2020 की Ookla लिस्ट में पहले पायदान पर साउथ कोरिया है। यहां ऐवरेज डाउनलोड स्पीड 121 Mbps की है, जबकि दूसरे नंबर 113.35 Mbps स्पीड के साथ चीन काबिज है। तीसरे नंबर पर यूएई है जहां 109.43 Mbps की ऐवरेज मोबाइल डाउलनोड स्पीड है। चौथे नंबर पर क़तर है, यहां ऐवरेज स्पीड 92.85 Mbps है, जबकि पांचवें नंबर पर 79.70 Mpbs के साथ नीदरलैंड्स है।

फिक्स्ड लाइन ब्रॉडबैंड स्पीड में भी भारत फिसड्डी

फिक्स्ड लाइन ब्रॉडबैंड डाउनलोड स्पीड के मामले में 226.60 Mbps की औसत स्पीड के साथ सिंगापुर नंबर-1 पर काबिज है, जबकि दूसरे नंबर पर 210.73 Mbps की ऐवरेज स्पीड के साथ हॉन्ग कॉन्ग है। तीसरे नंबर पर रोमानिया है जहां की ऐवरेज डाउलनोड स्पीड 193.47 Mbps है। चौथे नंबर पर स्विट्ज़रलैंड है जहां की स्पीड 178.81 Mbps है। पांचवें नंबर पर थाइलैंड है जहां 175.22 Mpbs की औसत स्पीड मिल रही है। छठे पायदान पर फ्रांस काबिज है, जहां के लोगों को 173.05 Mbps की स्पीड मिल रही है। 35वें पायदान पर फिनलैंड है, जहां की औसत स्पीड 103.81 Mbps है। भारत 46.47 Mbps स्पीड के साथ इस सूची में 70वें पायदान पर है।

Related posts

मध्य प्रदेश चुनावः बीजेपी की तीसरी लिस्ट में होगा सिंधिया का नाम!

samacharprahari

दो सेना की दशहरा रैली, दोनों बोले- तुम गद्दार

Amit Kumar

चीन से साइबर हमले बढ़े

samacharprahari

डॉ कफील खान को योगी सरकार ने किया बर्खास्त

samacharprahari

भाजपा संसदीय बोर्ड और केंद्रीय चुनाव समिति में गडकरी और चौहान को जगह नहीं

samacharprahari

महाराष्ट्र राजभवन के 16 स्टाफ कोरोना पॉजिटिव

samacharprahari