ताज़ा खबर
OtherPoliticsTop 10एजुकेशनऑटोखेलटेकताज़ा खबरबिज़नेसभारतराज्य

बजट में शिक्षा और हेल्थ पर है फोकस

मनपा बजट पर कोरोना का असर, स्वास्थ्य बजट में 500 करोड़ की वृद्धि

समाचार प्रहरी, मुंबई
एशिया की सबसे अमीर महानगर पालिका बृहन्मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) ने बुधवार को बजट पेश कर दिया। इस बार 39 हजार 038.83 करोड़ का बजट पेश किया गया है। पिछले साल 33 हजार 441 करोड़ का बजट पेश किया गया था। पिछले साल के मुकाबले इस साल मनपा ने बजट में 16.74 फीसदी की बढ़ोतरी की है। कुल रकम के नियोजन के हिसाब से यह बीएमसी बजट अब तक का सबसे बड़ा बजट है। इस बजट पर कोरोना का असर दिखाई पड़ रहा है, इसके कारण स्वास्थ्य बजट में 500 करोड़ की वृद्धि की गई है, जबकि शिक्षा के लिए भी 2000 करोड़ रुपये आवंटित हुए हैं। हालांकि प्रॉपर्टी टैक्स में कोई रियायत नहीं दी गई है।

कोरोना काल में हुई मुश्किलों और आगामी बीएमसी के चुनाव के मद्देनजर इस बजट को लेकर काफी उत्सुकता बनी हुई थी। पिछले साल कोरोना की वजह से बीएमसी के राजस्व में केवल 25 से 30 प्रतिशत तक की ही बढ़ोतरी हुई थी। आमजन को 500 वर्ग फुट तक के घरों पर प्रापर्टी टैक्स में पूरी छूट मिलने की उम्मीद थी। लेकिन, यह मांग पूरी नहीं की गई है। टैक्स छूट में बड़े घरों को भी शामिल करने की मांग की गई थी। लेकिन इस बजट में कुछ नहीं कहा गया है। हालांकि वैश्विक महामारी कोरोना संकट के दौरान पेश किए गए वार्षिक बजट में मनपा कमिश्नर इकबाल सिंह चहल ने मुंबईकरों की बुनियादी सुविधाओं का ख्याल रखा है।

कोस्टल रोड के लिए 2000 करोड़
समुद्र किनारे मुंबई को कनेक्ट करने वाला कोस्टल रोड प्रोजेक्ट उद्धव ठाकरे का ड्रीम प्रोजक्ट माना जाता है। जैसी उम्मीद थी, उसी के अनुसार इस प्रोजक्ट को गति देने के लिए 2000 करोड़ रुपए का फंड दिया गया है। मुंबई की यातायात समस्या को सुचारू करने के लिए कोस्टल रोड प्रोजक्ट को गति देने का संकल्प दिखाया गया है।

खजाने में 5876 रुपए कम जमा हुए
मुंबई मनपा आयुक्त चहल ने बजट पेश करते हुए बताया कि पिछले साल के मुकाबले इस साल बीएमसी के खजाने में 5,876 करोड़ रुपए कम निधि जमा हुई है। इसके बावजूद बीएमसी ने अब तक का सबसे बड़ा बजट पेश किया है। शिक्षा बजट के लिए मनपा ने 2945.78 करोड़ का बजट रखा है। पिछले साल इस मद पर 2374.54 करोड़ रुपए का फंड दिया गया था। कोरोना से बचाव के लिए स्कूलों में उपकरणों की खरीद के लिए 15.9 करोड़ रुपए रखे गए हैं। इस साल शिक्षा बजट में 24 नए एसएससी स्कूलों के साथ ही 10 सीबीएसई स्कूलों को खोलने की घोषणा की गई है। मनपा प्रशासन वन नेशन वन एजूकेशन की पॉलिसी को तेजी से अपनाने पर जोर दे रहा है।

Related posts

भारत को 1.2 डॉलर चुकाने का आदेश

samacharprahari

बोनस व प्रलंबित मांग को लेकर रेलकर्मी फिर करेंगे आंदोलन

Prem Chand

मेरा न तो कोई सपना था, न ही कोई प्रेरणास्रोत: निर्मला सीतारमण

samacharprahari

कोलकाता बिल्डिंग हादसे में अब तक 10 लोगों की मौत

samacharprahari

मार्च में 200 कंपनियों ने दिवालिया के लिए आवेदन किया

samacharprahari

चंद घंटे में निवेशकों की 8.21 लाख करोड़ रुपये की पूंजी डूबी

samacharprahari