ताज़ा खबर
OtherTop 10ताज़ा खबरबिज़नेसभारतराज्य

कोविड-19 ने महिलाओं को बेरोजगार किया

मुंबई। पिछले साल कोविड महामारी से लगाए गए लॉकडाउन के बाद अधिकांश भारतीय महिला कर्मचारियों को अपना कैरियर बीच में ही छोड़ देना पड़ा। लगभग 71 फीसदी कार्यालयों में कामकाजी पुरुषों के मुकाबले महिलाओं की मौजूदगी दर अब केवल 11 प्रतिशत रह गई है। महिलाओं में बेरोजगारी की दर 17 फीसदी रही, जबकि पुरुषों की बेरोजगारी दर 6 फीसदी है। हालांकि सर्वेक्षण में यह बात भी सामने आया है कि कोविड-19 के दौर से निकलने के लिए संघर्ष कर रही अधिकांश महिलाएं अब अपनी सेहत पर अधिक ध्यान देने के साथ ही कोई नया कारोबार शुरू कर आत्मनिर्भरता हासिल करने व उद्यमी बनने के सपने देख रही हैं।
सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकॉनामी (सीएमआईई) की रिपोर्ट के अनुसार, कोविड महामारी ने श्रम बल में महिलाओं की भागीदारी की दर को कम कर दिया है। कंपनियों के बंद हो जाने व अचानक नौकरी से हाथ धो बैठने से महिलाओं के मानसिक स्वास्थ्य पर सीधा असर पड़ा है।

Related posts

नवाब मलिक के थे ‘D’ गैंग से संबंध! चार्जशीट में खुलासा- फर्जी दस्तावेज बना हड़पी करोड़ों की प्रॉपर्टी

Prem Chand

चाहे अंबानी हो या अडाणी, उनकी पूजा की जानी चाहिए: भाजपा सांसद

samacharprahari

अगले महीने तक अंधेरी स्टेशन पर तेजस एक्सप्रेस का अस्थायी हॉल्ट

samacharprahari

भारतीय सेना होगी नए संचार नेटवर्क से लैस

samacharprahari

राणा कपूर के बैंक, डीमैट अकाउंट होंगे कुर्क

samacharprahari

हवाला-करप्शन मामले में ईडी ने दिल्ली के हेल्थ मिनिस्टर सत्येंद्र जैन को किया गिरफ्तार

Prem Chand