ताज़ा खबर
OtherPoliticsTop 10ताज़ा खबरभारतराज्य

सुप्रीम कोर्ट ने प्रशांत भूषण को अवमानना का दोषी ठहराया

नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय (सुप्रीम कोर्ट) ने शुक्रवार को एक्टिविस्ट अधिवक्ता प्रशांत भूषण को न्यायपालिका के प्रति उनके दो अपमानजनक ट्वीट करने के मामले में न्यायालय की अवमानना का दोषी ठहराया है। न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा, न्यायमूर्ति बी आर गवई और न्यायमूर्ति कृष्ण मुरारी की पीठ ने प्रशांत भूषण को अवमानना का दोषी ठहराते हुए कहा कि 20 अगस्त को बहस सुनने के बाद सजा सुनाई जाएगी।

शीर्ष अदालत ने पांच अगस्त को इस मामले में सुनवाई पूरी करते हुए कहा था कि इस पर फैसला बाद में सुनाया जायेगा। इससे पहले, अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने उन दो ट्वीट का बचाव किया था, जिसमें कथित तौर पर अदालत की अवमानना की गई है। उन्होंने कहा था कि वे ट्वीट न्यायाधीशों के खिलाफ उनके व्यक्तिगत स्तर पर आचरण को लेकर थे और वे न्याय प्रशासन में बाधा उत्पन्न नहीं करते। न्यायालय ने इस मामले में एक याचिका का संज्ञान लेते हुए प्रशांत भूषण के खिलाफ आपराधिक अवमानना की कार्यवाही के लिए उन्हें 22 जुलाई को कारण बताओ नोटिस जारी किया था।

Related posts

तेलंगाना के पावर स्टेशन में आग, अंदर फंसे सभी 9 लोगों की हुई मौत

samacharprahari

महंगाई, बेरोजगारी, किसानों की दुर्दशा पर मोदी सरकार का ‘व्हाइट पेपर’, कांग्रेस ने रखा ‘ब्लैक पेपर’

samacharprahari

नोटबंदी पर ‘श्वेत पत्र’  लाए सरकार, सभी दावे धराशायीः कांग्रेस

samacharprahari

बढ़ती महंगाई के दौर में विकास दर को बरकरार रखने की चुनौती

Vinay

यस बैंक मामला: सीबीआई ने दिल्ली-एनसीआर में कई स्थानों पर छापे मारे

samacharprahari

मुंबई में युद्धपोत रणवीर पर ब्लास्ट

samacharprahari