ताज़ा खबर
OtherTop 10ताज़ा खबरबिज़नेसराज्य

लॉकडाउन के एक साल में बीएसई सूचकांक 66 पर्सेंट बढ़ा

बिजनेस संवाददाता, मुंबई
कोविड-19 संकट से अर्थव्यवस्था के चरमराने के बाद भी बीएसई सेंसेक्स पिछले एक साल में 66 प्रतिशत से
अधिक की तेज ग्रोथ से जगमगा उठा है। वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान भारी उतार-चढ़ाव देखा गया। मार्च महीने में लगाए गए लॉकडाउन के बाद बाजार धड़ाम हो गया, लेकिन गिरावट से उबरते हुए बीएसई का सेंसेक्स अब तक 19,540.01 अंक यानी 66.30 प्रतिशत तक उछल चुका है। बाजार के पूंजीकरण में भी 100 लाख करोड़ से अधिक की बढ़ोतरी हुई है। बीएसई सेंसेक्स पिछले साल तीन अप्रैल को 27,500.79 अंक के निचले स्तर तक फिसला था। लेकिन बाद में सूचकांक की रफ्तार तेजी से बढ़ी और 16 फरवरी 2021 को बीएसई ने अपना 52,516.76 अंक का हाई रिकॉर्ड हासिल किया। घरेलू पोर्टफोलियो निवेशकों (डीआईआई) के साथ ही विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक (एफपीआई) की ओर से शेयर बाजार में लगातार निवेश किया है।

Related posts

जियो ने लॉन्च किए ‘पोस्टपेड प्लस’ प्लान्स

samacharprahari

युवा उद्यमियों के लिए अवसरों की सुनामी है

samacharprahari

पिछले साल सीमा पर 46 भारतीय जवान शहीद : रक्षा मंत्री

samacharprahari

बिजली गिरने से बिहार में 83, यूपी में 24 लोगों की मौत

samacharprahari

वाराणसी घाट पर पंडा और पुरोहितों को देना होगा टैक्स, विरोध शुरू

Prem Chand

महाराष्ट्र में बैलेट पेपर से होंगे चुनाव!

Girish Chandra