ताज़ा खबर
PoliticsTop 10ताज़ा खबरबिज़नेसभारतराज्य

मेरा न तो कोई सपना था, न ही कोई प्रेरणास्रोत: निर्मला सीतारमण

मुंबई। केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण का कहना है कि जीवन में उनका न तो कोई प्रेरणास्रोत रहा है और न ही कोई सपना। उन्होंने यह भी कहा कि केवल एक चीज है। उन्होंने कहा, ‘मैंने बेहतर प्रदर्शन किया, ताकि उन लोगों को निराश नहीं करूं, जिन्होंने मुझे जिम्मेदारी दी है।’ वित्त मंत्री बैंगलोर चैंबर ऑफ इंडस्ट्री एंड कॉमर्स (बीसीआईसी) की ओर से रविवार को आयोजित एक संवाद सत्र को संबोधित कर रही थीं।
इस दौरान जब उनसे सवाल किया गया, ‘जब आप युवा अवस्था में थीं तो आपका क्या सपना था, आपको इस पद पर पहुंचाने का प्रेरणास्रोत कौन था? तो इस सवाल पर सीतारमण ने जवाब दिया,‘बहुत ही प्यारा सवाल है।’ मंत्री ने कहा, ‘लेकिन मुझे नहीं लगता कि मेरा कोई सपना था। मैं बस वही करती गई, जो मेरे सामने था और आगे बढ़ती गई।’ उन्होंने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि मैंने अपने जीवन में कोई रास्ता तय किया था। मैं उस रास्ते पर चली जो मेरे सामने था और मैं जहां भी हूं, भाग्य मुझे ले आया।’ सीतारमण ने कहा, ‘केवल एक चीज है कि मैंने बेहतर प्रदर्शन किया ताकि मैं उन लोगों को निराश नहीं करूं जिन्होंने मुझे जिम्मेदारी दी है और मैं भारत के लोगों को निराश नहीं करना चाहती।’

Related posts

काशी विश्वनाथ मंदिर परिसर में बिजली गिरी

Girish Chandra

बाबरी विध्वंस मामले के सभी 32 आरोपी बरी

samacharprahari

यस बैंक ने एडीएजी की तीन संपत्तियों पर किया कब्जा

samacharprahari

मराठा समाज के बड़े नेता विनायक मेटे का सड़क हादसे में निधन

Girish Chandra

उगाही केस में अनिल देशमुख को झटका, बेल अर्जी खारिज

Vinay

सैट ने चित्रा रामकृष्ण को दी राहत

samacharprahari