ताज़ा खबर
OtherPoliticsTop 10ताज़ा खबरबिज़नेसभारतराज्य

पर्यटन प्रमोशन के लिए मीडिया अभियानों पर एक अरब से ज्यादा खर्च

पर्यटन प्रमोशन के लिए 1,24,23,51,698 रुपये खर्च किए

समाचार प्रहरी, मुंबई।

केंद्र सरकार ने राज्यसभा में पूछे गए एक सवाल के जवाब में बताया है कि देश में पर्यटन सेक्टर के प्रमोशन के लिए पिछले तीन वर्षों में एक अरब से ज्यादा की धनराशि मीडिया अभियानों पर खर्च हुई है। ओडिशा से बीजू जनता दल के सांसद भास्कर राव नेक्कांति और प्रशांत नंदा के एक लिखित सवाल के जवाब में केंद्रीय पर्यटन राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार प्रहलाद सिंह पटेल ने यह जानकारी दी है।

दरअसल, बीजू जनता दल के दोनों सांसदों ने भारत में घरेलू पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए मीडिया अभियानों पर खर्च हुई धनराशि पर सवाल पूछा था। इस सवाल का लिखित में जवाब देते हुए पर्यटन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) प्रहलाद सिंह पटेल ने बताया कि पर्यटन मंत्रालय की ओर से भारत में घरेलू पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न मीडिया अभियान चलाए जाते हैं। पिछले तीन वर्षों में प्रिंट मीडिया, टेलीविजन, ऑनलाइन, रेडियो, थियेटर और एसएमएस अभियान चलाए गए हैं।

इन अभियानों पर बारे में जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि वर्ष 2017-18 में 25 करोड़ 70 लाख 95 हजार 135 रुपये खर्च हुए, जबकि वर्ष 2018-19 में 65 करोड़ 25 लाख 12 हजार 193 रुपये खर्च किए गए हैं। इसी तरह वर्ष 2019-20 में पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए 33 करोड़ 27 लाख 44 हजार 370 रुपये खर्च कर मीडिया अभियान संचालित हुए। तीन वर्ष में पर्यटन से जुड़े मीडिया अभियानों पर 1,24,23,51,698 रुपये खर्च हुए।

पर्यटन मंत्री ने बताया कि पर्यटन मंत्रालय की ओर से ब्यूरो ऑफ आउटरीच कम्युनिकेशन (बीओसी), दूरदर्शन, राष्ट्रीय फिल्म विकास निगम (एनएफडीसी) के माध्यम से मीडिया प्लान प्राप्त किए जाते हैं। यह अभियान भारत के सभी राज्यों के लिए होते हैं, न कि राज्य विशेष के लिए।

Related posts

ग्राम विकास अधिकारी के खिलाफ गैंगरेप का आरोप, एफआईआर दर्ज

samacharprahari

पेट्रोलियम प्रोडक्ट से वसूले 4.31 लाख करोड़ रुपये का टैक्स

Girish Chandra

3.65 करोड़ जन-धन खाता में नहीं है एक भी पइसा!

samacharprahari

एटीएस ने बब्बर खालसा से जुड़े व्यक्ति को गिरफ्तार किया

Vinay

Govt notifies Covid-19 as disaster; announces Rs 4 lakh ex-gratia for deaths

Admin

इस साल पार्टियों को मिला 1100 करोड़ रुपये का चुनावी फंड

samacharprahari