ताज़ा खबर
Otherटेकबिज़नेस

ओ 2 सी बिजनेस अलग करेगी RIL

मुंबई। रिलायंस इंडस्ट्रीज (आरआईएल) ने अपने ऑयल-टू-केमिकल बिजनेस को अलग करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। दुनिया के बड़े निवेशकों को अपने ऑयल-टू-केमिकल बिजनेस में हिस्सेदारी बेचने के लिए अलग कंपनी (सब्सिडियरी) बना रही है। इसके लिए पैरेंट्स कंपनी से 25 अरब डॉलर का कर्ज लिया जाएगा। इस अनुषंगी इकाई के पास 42 अरब डालर की संपत्तियां होंगी।
आरआईएल ने कहा है कि आरआईएल स्टैंडएलोन कंपनी होगी, जिसके पास ऑयल-टू-केमिकल को छोड़ दूसरे सभी कारोबार होंगे। नई सब्सिडियरी नई टेक्नोलॉजी को अपनाने पर जोर देगी, जिससे ग्रोथ के नए प्लेटफॉर्म तैयार होंगे। ऑयल टू केमिकल कारोबार को अलग करने का प्रस्ताव मुंबई और अहमबदाबाद में नेशनल कंपनी लॉ ट्राइब्यूनल (एनसीएलटी) को भी भेजा गया है। इस वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में अप्रूवल मिल जाने की उम्मीद है। सेबी और स्टॉक एक्सचेंजों का अप्रूवल पहले ही मिल चुका है।

Related posts

माइक्रोसॉफ्ट ने बिजनेसेस को इंटेलिजेंट सप्‍लाई चेन्‍स बनाने में सहयोग दिया

Vinay

पेपर लीक के बाद सेना की भर्ती परीक्षा कैंसिल, 3 अरेस्ट

samacharprahari

रेल हादसे पर ताइवान के मंत्री ने ली जिम्मेदारी

samacharprahari

समय से पहले आ सकता है मॉनसून

Prem Chand

अन्‍नदाता के सामने अन्‍न का संकल्‍प, हराएंगे बीजेपी को: अख‍िलेश यादव

samacharprahari

ईडी ने बैंक धोखाधड़ी मामले में प्रबंध निदेशक को अरेस्ट किया

Vinay