ताज़ा खबर
OtherTop 10ऑटोटेकताज़ा खबरबिज़नेसभारतराज्य

संकट से जूझ रही लॉन्ग टर्म परियोजनाओं के लिए एनबीएफआईडी बिल मंजूर

प्रहरी संवाददाता, मुंबई। केंद्र सरकार ने इन्फ्रा डेवलपमेंट बिल को मंजूकी दे दी है। नए डेवलपमेंट फाइनेंस इंस्टीट्यूशन में सरकार की कम से कम 26 फीसदी हिस्सेदारी होगी। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 22 मार्च को लोकसभा में इससे जुड़ा बिल पेश करते हुए यह जानकारी दी।

नेशनल बैंक फॉर फाइनेंसिंग इंफ्रास्ट्रक्चर एंड डेवलपमेंट (एनबीएफआईडी) बिल का मकसद नकदी संकट से जूझ रही लॉन्ग टर्म परियोजनाओं की मदद करना है। इसके तहत इंफ्रास्ट्रक्चर परियोजनाओं को फंड मुहैया कराने के लिए बॉन्ड और डेरिवेटिव मार्केट्स भी डेवलप किया जाएगा। इसका हेडक्वार्टर मुंबई में होगा और इसके ऑफिस देश भर में खोले जाएंगे। इसका रेगुलेशन आरबीआई करेगा।
इस बिल के मुताबिक, “इस इंस्टीट्यूशन का मकसद डायरेक्ट या इनडायरेक्ट तरीके से परियोजनाओं के लिए कर्ज देना या इनवेस्ट करना है। साथ ही यह देश-विदेश से इंफ्रास्ट्रक्चर परियोजनाओं के लिए निवेश जुटाने की कोशिश करेगी। कंपनी का फोकस देश के आर्थिक विकास पर रहेगा।” बैंक का ऑथराइज्ड कैपिटल एक लाख करोड़ रुपए होगा। यह 10 रुपए वैल्यू के शेयर 10,000 करोड़ शेयरों में बंटा रहेगा।

Related posts

31 दिसंबर तक 41% MSME नहीं भर पाएंगे आयकर रिटर्न!

samacharprahari

रिकवरी एजेंटों ने निजी बस को किया अगवा

samacharprahari

बैड बैंक से पकड़ेंगे इकॉनमी का बिगड़ैल बैल!

Amit Kumar

चार राज्यों में विधान परिषद के द्विवार्षिक चुनाव दिसंबर में होंगे : निर्वाचन आयोग

samacharprahari

Coronavirus: India fights back, 7 more patients cured of Covid-19

Admin

अमरावती टारगेट किलिंग में डॉक्टर गिरफ्तार

Prem Chand