ताज़ा खबर
Otherलाइफस्टाइलसंपादकीय

ये जो खबरें हैं ना…. 6

आपदा में अवसर, ढ़ूंढ़ो रे….

रक्तदान महा दान माना जाता है… लेकिन कुछ लोग इस दान का गलत फायदा उठाते हैं…। देखिए ना, हम जैसे लाखों लोग एक पैकेट बिस्किट में ही अपना खून यानी रकत दान कर देते हैं….हमारे इस दान से मरीजों को नया जीवन भी मिलता है…हमने अक्सर नेता पुत्रों को बाप की साख पर खूब माल कमाते सुना है…लेकिन पहली बार एक नेतापुत्र ने रक्तदान के बदले एक किलो मटन या पनीर देने का वादा किया है। बिस्किट परंपरा को तोड़ कर रक्तदान करनेवालों की परेशानी को दूर करने का बीड़ा उठाया है।

लेकिन, क्या है ना… आपदा में अवसर ढ़ूंढ़नेवालों की जमात, रक्त की थैलियों का बिजनेस करनेवाले कभी-कभी बहुत अति कर देते हैं। इस महादान में बिजनेस का नमक मिला देते हैं। लाल पानी के इस महा दान में नमक का खारा माल यानी मुनाफाखोरी बढ़ जाती है। एक थैली के हजारों रुपये वसूलते हैं जरूरतमंदों से….बिचारों को देना ही पड़ता है…..

खैर, अच्छी बात सुनाता हूं…। खून देनेवालों सून ल्यो कान देकर…..इधर, एक नेता पुत्र ने नई पहल की है….इससे कम से कम एक पुरानी परंपरा पर लगाम लगेगी। जी हां.. पुरानी परंपरा के जरिए अमीर से अमीर एनजीओ एक बिस्किट का पैकेट देकर रक्तदाताओं को बहला देते थे। अब हमारे नेता पुत्र ने दानदाताओं को एक किलो मटन या एक किलो पनीर देने का वादा किया है। इस पहल का लाभ जरूर मिलना चाहिए भिया…

तो अगली बार, जब भी अपना खून देने जाओ…तो इस खबर को ध्यान में

रख कर अपनी डिमांड बढ़ाओ….ठीक समझे ना….।

Related posts

सुप्रीम कोर्ट का CAA पर रोक लगाने से इनकार, केंद्र को नोटिस जारी कर 8 अप्रैल तक मांगा जवाब

samacharprahari

भाजपा में भी है वंशवाद, राजनीतिक परिवार से हैं 45 सांसद

samacharprahari

सड़क हादसे में चार की मौत, कार के उड़े परखच्चे

Prem Chand

PMLA के प्रावधानों के तहत ईडी आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर सकती: सुप्रीम कोर्ट

Prem Chand

दिल्ली गैंग रेप मामले में 11 गिरफ़्तार

Vinay

लहरों के सिकंदर ‘INS विराट’ की अंतिम यात्रा

samacharprahari