ताज़ा खबर
OtherTop 10ताज़ा खबरभारतराज्य

नक्सलियों की आपसी लड़ाई में मारे गए छह नक्सली

नक्सलियों की आपसी लड़ाई में मारे गए छह नक्सली

संगठन में निर्दोष ग्रामीणों की हत्याओं को लेकर हो रहे आपसी मतभेद

 

रायपुर। छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में नक्सलियों ने आपसी लड़ाई में अपने पांच  सहयोगियों की हत्या कर दी है। अभी तक ऐसी घटनाओं में छह नक्सली मारे गए हैं। पुलिस ने दावा किया है कि बीजापुर जिले में माओवादी संगठन में निर्दोष ग्रामीणों की हत्याओं को लेकर हो रहे आपसी मतभेद में नक्सलियों ने अपने छह सहयोगियों की हत्या कर दी है।

 

बता दें कि छत्तीसगढ़ के बस्तर क्षेत्र में नक्सली घटनाओं में इस वर्ष 43 नागरिकों की मृत्यु हुई है। वहीं बस्तर क्षेत्र के सात जिलों में से बीजापुर समेत चार जिलों में सितंबर महीने के दौरान 11 नागरिक मारे गए हैं।

 

बस्तर क्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक सुंदरराज पी ने बताया कि इससे पहले नक्सलियों ने डिविजनल कमेटी सदस्य मोड़ियम विज्जा की हत्या कर दी थी। वहीं अब पुलिस को माओवादी जनताना प्रभारी लखु हेमला, डीएकएमएस रेंज कमेटी अध्यक्ष संतोष, जनमिलिशिया कमांडर कमलू पुनेम, जनमिलिशिया प्लाटून सेक्शन कमाण्डर संदीप उर्फ बुधराम कुरसम और जनताना सरकार अध्यक्ष दसरू मण्डावी की हत्या की जानकारी मिली है।

 

पुलिस अधिकारी ने बताया कि यह हत्याएं पिछले दो सप्ताह के दौरान हुई हैं। नक्सली प्रभावित इस क्षेत्र में माओवादियों के द्वारा ग्रामीणों की हत्या के बाद से उपजे विवाद का परिणाम है। पुलिस नक्सलियों की हरकतों पर नजर रख रही है तथा इस संबंध में आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

 

बस्तर पुलिस को विश्वसनीय सूत्रों से जानकारी मिली है कि चार-पांच दिनों पहले ईतावर गांव के जंगल में गंगालूर एरिया कमेटी के सचिव दिनेश मोड़ियम और गंगालूर एरिया कमेटी के डिविजनल कमेटी सदस्य मोड़ियम विज्जा के बीच विवाद हो गया था। इस दौरान दिनेश और विज्जा ने एक-दुसरे पर हमला कर दिया था। इस घटना में मोड़ियम विज्जा की हत्या कर दी गई थी। आपसी मुठभेड़ में मारे गए सभी नक्सलियों के सर पर एक लाख रुपये से तीन लाख रुपये तक का इनाम है।

 

सुंदरराज ने बताया कि मारे गए नक्सलियों में से चार गंगालूर एरिया कमेटी में सक्रिय थे जो नक्सली विज्जा के नेतृत्व में काम कर रहे थे। वहीं संतोष पामेड़ एरिया कमेटी में सक्रिय था। पुलिस को जानकारी मिली है कि क्षेत्र में पिछले कुछ समय से ग्रामीणों की हत्या को लेकर नक्सली नेताओं और उनके अंतर्गत काम कर रहे लोगों के बीच लड़ाई शुरू हो गई है। इस लड़ाई का ही नतीजा है किे पिछले दो सप्ताह के दौरान छह नक्सलियों की मौत हो गई है।

Related posts

नवाब मलिक को विभागों से मुक्त किया गया : राकांपा

samacharprahari

महाराष्ट्र में अनलॉक 4 की गाइडलाइंस जारी, स्कूल कॉलेज रहेंगे बंद

samacharprahari

लुब्रीजोल ने फ्लोगार्ड प्लस प्लंबिंग सिस्टम के लिये भारत में पार्टनर नेटवर्क का विस्तार किया

samacharprahari

पटरी से उतरी गुवाहाटी-बीकानेर एक्सप्रेस

Amit Kumar

उगाही केस में अनिल देशमुख को झटका, बेल अर्जी खारिज

Vinay

मुंबई में राहुल बोले- राजा की आत्मा EVM, ED-CBI में है

Prem Chand