ताज़ा खबर
OtherPoliticsTop 10ताज़ा खबरभारतराज्य

एमएलए को ‘विकास’ के लिए मिलेंगे 4-4 करोड़ रुपये

-विकास निधि बढ़ाने का सर्वदलीय विधायकों ने किया स्वागत
-तिजोरी पर 350 करोड़ रुपये का अतिरिक्त बोझ

प्रहरी संवाददाता, मुंबई

महाराष्ट्र की महा विकास आघाडी सरकार के एक फैसले का सर्वदलीय विधायकों ने बिना किसी विरोध के समर्थन किया है। वित्त मंत्री अजित पवार ने जैसे ही विधानसभा क्षेत्र में विकास कार्यों के लिए 4-4 करोड़ रुपये और पूरा वेतन देने की घोषणा की, सत्ता पक्ष और विपक्ष के सभी विधायकों के चेहरे खिल उठे। विकास निधि बढ़ाने का सर्वदलीय विधायकों ने स्वागत किया है। हालांकि सरकार के इस फैसले से तिजोरी पर 350 करोड़ रुपये का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा।

बता दें कि कोरोना का हवाला देकर आर्थिक मंदी का रोना रोने वाली राज्य सरकार ने अब जनप्रतिनिधियों को मिलनेवाली विकास निधि को तीन करोड़ रुपये सालाना से बढ़ाकर चार करोड़ रुपये कर दिया है। ई-टेंडरिंग की सीमा भी तीन लाख रुपये से बढ़ाकर 10 लाख रुपये कर दिया है। साथ ही विधायकों को पूरा वेतन भी देने की घोषणा की। कोरोना काल में विधायकों के वेतन में सरकार ने पहले 30 प्रतिशत की कटौती कर दी थी। बुधवार को वित्तमंत्री पवार ने कहा कि राज्य में पूर्व भाजपा सरकार ने साल 2014 में 3 लाख रुपये से अधिक राशि के कामों के लिए ई-टेंडरिंग अनिवार्य किया था, लेकिन विधानमंडल के दोनों सदनों के विधायकों की मांग थी कि यह सीमा बढ़ाई जाए। इसलिए राज्य में अब 10 लाख रुपये तक के कामों के लिए ई टेंडर की आवश्यकता नहीं होगी।

Related posts

‘ब्रेक दि चेन’: पांच चरण में अनलॉक होगा महाराष्ट्र

samacharprahari

2025-26 तक पेट्रोल में 20 फीसदी एथेनॉल मिलाने का लक्ष्य

Prem Chand

पूर्वोत्तर के पांच राज्यों में लगे भूकंप के झटके

samacharprahari

ईडी ने चंदा कोचर के पति को गिरफ्तार किया

samacharprahari

आतंकी कर सकते हैं हमला! नए साल पर हाई अलर्ट

Vinay

फर्जी वीजा, पासपोर्ट के साथ पकड़े गए ईरानी नागरिक, कोर्ट ने दी दो साल की कैद की सजा

samacharprahari