ताज़ा खबर
OtherPoliticsTop 10ताज़ा खबरभारतराज्य

भारत में 19,467 लोगों को पुलिस सुरक्षा मिली

समाचार प्रहरी, मुंबई।

भारत में 19,467 लोगों को पुलिस सुरक्षा मिली हुई है। पुलिस सुरक्षा पाने वालों की अधिकतम संख्या पश्चिम बंगाल, पंजाब, बिहार और जम्मू-कश्मीर में है। भारत भर में पुलिस सुरक्षा पाने वाले लोगों की संख्या साल 2019 में 19,467 थी। वर्ष 2018 की तुलना में लगभग नौ प्रतिशत की कमी आई है। पिछले साल 1,833 लोगों की सुरक्षा में कमी की गई। हालांकि मंत्रियों, सांसदों, विधायकों, न्यायाधीशों व नौकरशाहों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

1833 लोगों की सुरक्षा घटाई
पुलिस अनुसंधान एवं विकास ब्यूरो से मिले आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार पता चलता है कि मंत्रियों, सांसदों, विधायकों, न्यायाधीशों, नौकरशाहों आदि के लिए साल 2018 और साल 2019 में सुरक्षा कर्मियों की संख्या स्वीकृत क्षमता से लगभग 35 प्रतिशत अधिक हो गई है। ब्यूरो ने एक जनवरी 2020 तक की जानकारी साझा की है। भारत भर में पुलिस सुरक्षा पाने वाले लोगों की संख्या साल 2019 में 19,467 थी, जबकि साल 2018 में यह आंकड़ा 21,300 था। साल 2019 में 1,833 (या 8.7 प्रतिशत) लोगों की सुरक्षा में कमी की गई।

सुरक्षा ड्यूटी पर तैनाती
डेटा के मुताबिक, साल 2019 में सुरक्षा ड्यूटी के लिए स्वीकृत पुलिस कर्मियों की संख्या 43,556 थी, जबकि 66,043 कर्मियों को लोगों की सुरक्षा के लिए तैनात किया गया था। वर्ष 2018 में, स्वीकृत संख्या 40,031 थी, जबकि 63,061 पुलिस कर्मियों को सुरक्षा ड्यूटी पर तैनात किया गया था।

पश्चिम बंगाल में अधिकतम

आंकड़ों के अनुसार, वर्ष 2019 में पश्चिम बंगाल में अधिकतम 3,142 लोगों को पुलिस सुरक्षा मिली हुई थी, इसके बाद पंजाब में 2,594, बिहार में 2,347 और जम्मू-कश्मीर में 1,184 लोगों को पुलिस सुरक्षा मिली हुई थी। साल 2018 में, बिहार में सबसे अधिक 4,677 लोगों को पुलिस सुरक्षा मिली थी, इसके बाद पश्चिम बंगाल में 2,769, पंजाब में 2,522 और जम्मू-कश्मीर में 1,493 लोगों को पुलिस सुरक्षा मिली थी। हालांकि, दिल्ली में वर्ष 2018 में सुरक्षा पाने वालों की संख्या 503 और वर्ष 2019 में 501 हो गई थी।

Related posts

बढ़ती महंगाई के दौर में विकास दर को बरकरार रखने की चुनौती

Vinay

क्रिप्टोकरेंसी में निवेश के जरिये धोखाधड़ी, आरोपी अरेस्ट

samacharprahari

मुख्यमंत्री उद्धव का बड़ा फैसला- आरे मेट्रो कार शेड प्रोजेक्ट रद्द

Prem Chand

13 कंपनियों ने डुबाए बैंकों के 2.85 लाख करोड़ रुपये!

Amit Kumar

इस साल 9,000 ट्रेन सेवाएं रद्द

Prem Chand

भारत में 100 मिलियन स्‍नैप चैटर्स तक पहुंचने का टार्गेट

Prem Chand