ताज़ा खबर
OtherPoliticsTop 10ताज़ा खबरभारतराज्य

बाबरी विध्वंस केसः सुप्रीम कोर्ट ने कहा- 30 सितंबर तक फैसला सुनाए सीबीआई कोर्ट

नई दिल्ली। अयोध्या स्थित बाबरी ढांचा विध्वंस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने लखनऊ की सीबीआई ट्रायल कोर्ट को फैसला सुनाने के लिए एक महीने का समय दिया है। सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर ट्रायल कोर्ट 30 सितंबर तक फैसला दे सकता है।
बता दें कि इस केस में भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती और अन्य नेताओं को आरोपी बनाया गया है। अयोध्या बाबरी विध्वंस मामले में लालकृष्ण आडवाणी ने 24 जुलाई को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए विशेष जज के सामने अपना बयान दर्ज करवाया था। इस दौरान देश के पूर्व उप-प्रधानमंत्री ने अपने खिलाफ लगे सभी आरोपों को खारिज कर दिया था। उन्होंने उस समय की केंद्र सरकार को अपने खिलाफ लगे आरोपों के लिए जिम्मेदार ठहराया था। इस मामले में खुद को निर्दोष करार देते हुए आडवाणी ने कहा था कि उन पर लगाए गए आरोप राजनीति से प्रेरित थे।

गौरतलब है कि अयोध्या में छह दिसंबर 1992 को ‘कारसेवकों’ ने ढांचा ढहा दिया था। उनका दावा था कि बाबरी ढांचा की जगह पर राम का प्राचीन मंदिर हुआ करता था। राम मंदिर आंदोलन का नेतृत्व करने वाले लोगों में आडवाणी और जोशी भी शामिल थे।

 

Related posts

यूपी में सरकारी नौकरी का सपना नहीं होगा पूरा, 5 साल कॉन्ट्रैक्ट पर रखने की तैयारी

samacharprahari

प्रेमी से शादी कराने के नाम पर ठगी, तांत्रिक गिरफ्तार

Prem Chand

यस बैंक मामला: सीबीआई ने दिल्ली-एनसीआर में कई स्थानों पर छापे मारे

samacharprahari

बिना सहमति के महिला के शरीर को छूना उसका शील भंग करना है: बॉम्बे हाईकोर्ट

samacharprahari

लाइफ का पता लगाने समुद्र में 6000 मीटर गहराई में जाएंगे वैज्ञानिक

samacharprahari

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान धोनी ने इंटरनेशनल क्रिकेट को कहा अलविदा

samacharprahari