ताज़ा खबर
OtherTop 10ताज़ा खबरदुनियाबिज़नेसभारत

मुंबई की महिलाएं धनवानों की सूची में अव्वल

समाचार प्रहरी, मुंबई।
कोटक वैल्थ मैनेजमेंट और हुरुन इंडिया ने कोटक वैल्थ हुरुन -लीडिंग वैल्दी वुमन की दूसरी सूची जारी कर दी है। 54,850 करोड़ रुपये की संपति के साथ एचसीएल टेक्नोलॉजी की रोशनी नाडर मल्होत्रा इस सूची की सबसे अमीर महिला होने का खिताब हासिल किया है। उनके बाद बायोकॉन की किरण मजुमदार शॉ हैं, जिनके पास 36,600 करोड़ रुपये की संपति है और यूएसवी की लीना गांधी तिवारी ने 21,340 करोड़ की संपति के साथ तीसरा स्थान हासिल किया है। सबसे अमीर महिला उद्यमियों के पास कुल 2,72,540 करोड़ रुपये मूल्य की संचयी रकम है। मुंबई से सबसे ज़्यादा 32 महिलाओं को कोटक वैल्थ हुरुन -लीडिंग वैल्दी वुमन की सूची में जगह मिली है, जबकि दिल्ली की 20 और हैदराबाद की 10 महिलाएं भी इस सूची में शामिल हुई हैं।

सबसे धनवान महिलाओं की सूची

  • रोशनी नाडर मल्होत्रा एचसीएल टेक्नोलॉजीज, नई दिल्ली               54,850 करोड़
  • किरण मजूमदार शॉ बायोकॉन, बेंगलुरु                                      36,600 करोड़
  • लीना गांधी तिवारी यूएसवी, मुंबई                                              21,340 करोड़
  •  नीलिमा मोटापर्ती डीवीज लैबोरेटरी, हैदराबाद                           18,620 करोड़
  • राधा वेम्बु जोहो, चेन्नई                                                            11,590 करोड़
  • जयश्री उल्लाल अरिस्टा नेटवर्क, सैन फ्रांसिस्को                           10,220 करोड़
  • रेणु मुंजाल हीरो फिनकॉर्प, नई दिल्ली                                         8,690 करोड़
  • मल्लिका चिरयु अमीन अलेम्बिक फार्मास्यूटिकल्स, वडोदरा            7,570 करोड़
  • अनु आगा और मेहर पुदुमजी थर्मैक्स, पुणे                                   5,850 करोड़
  • फाल्गुनी नायर एंड फैमिली न्याका मुंबई                                     5,410 करोड़

Related posts

मेक्सिको की महिला डीजे से दुष्कर्म का आरोपी गिरफ्तार

samacharprahari

अमेरिका ने किया हाइपरसोनिक एयर-लॉन्च रैपिड रिस्पांस वेपन का परीक्षण

Prem Chand

ईडी ने जब्त की लाल महल की 7.47 करोड़ की संपत्ति

Prem Chand

हमीरपुर में ट्रक ने बाइक सवार को कुचला

Prem Chand

यूपी में पिछले 24 घंटों में आए 2250 नए केस

samacharprahari

दो साल में 4837 बैंक शाखाओं का मिट गया वजूद

Prem Chand