ताज़ा खबर
Otherभारतराज्य

बांग्लादेशी नागरिक की जमानत याचिका खारिज

मुंबई। मुंबई की एक अदालत ने अवैध रूप से भारत में प्रवेश करने और बिना वैध दस्तावेजों के देश में रहने के आरोपी बांग्लादेश के एक नागरिक को जमानत देने से इनकार कर दिया है। अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश अभिजीत नंदगांवकर ने बांग्लादेशी नागरिक मोहम्मद इमरान अली शेख की याचिका खारिज करते हुए कहा कि अगर आरोपी को जमानत पर रिहा कर दिया जाता है तो इससे ‘समाज को गलत संदेश जाएगा और अवैध तथा अनधिकृत आव्रजन की समस्या, जिससे भारत पहले ही जूझ रहा है, और बढ़ जएगी।’
बता दें कि बांग्लादेशी नागरिक मोहम्मद इमरान शेख को पहले गिरफ्तार किया गया था और उसके खिलाफ वाकोला पुलिस स्टेशन में संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था। आरोपी ने दूसरी बार जमानत याचिका दाखिल की थी। इससे पहले एक मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट ने भी उसकी याचिका को इस आधार पर खारिज कर दिया था कि वह ऐसे वैध दस्तावेज दिखाने में नाकाम रहा है, जो साबित करते हों कि वह भारतीय नागरिक है।
आरोपी ने सत्र अदालत के समक्ष अपनी दलील में दावा किया कि उसने कोई अपराध नहीं किया है और उसके खिलाफ दर्ज मामला ‘गलत और निराधार’है। उसने यह भी दावा किया कि वह मुंबई का स्थायी निवासी है। अभियोजन पक्ष ने अदालत से कहा कि शेख गैरकानूनी तरीके सें बांग्लादेश से भारत आया और सरकारी अधिकारियों से वैध अनुमति लिए बगैर यहां रह रहा था।

Related posts

इन्फ्रास्ट्रक्चर सुधारों के लिए गति शक्ति मास्टर योजना हैः पटनायक

samacharprahari

आधे घंटे देरी से पहुंची पुलिस, मैजिस्ट्रेट ने सुना दी घास काटने की सजा !

samacharprahari

खरगोन की हिंसा पर बोले राउत- देश तोड़कर चुनाव जीतना चाहती है बीजेपी

Prem Chand

प्रतीक्षा बंगले के बाहर ‘बड़ा दिल वाला’ पोस्टर

samacharprahari

‘तुम्हारी किडनी बेचकर वसूल करेंगे 1.50 करोड़ की उधारी…’, ब्याजखोरों ने दी कारोबारी को धमकी

samacharprahari

बिलकिस बानो गैंगरेप: सुप्रीम कोर्ट ने 11 दोषियों को दो हफ़्ते के भीतर सरेंडर करने को कहा

samacharprahari