ताज़ा खबर
OtherTop 10ताज़ा खबरभारतराज्य

आइसक्रीम बनाने वाली कंपनी ने की 1400 करोड़ की बैंक धोखाधड़ी?

सीबीआई ने कंपनी के निदेशकों से जुड़े 8 ठिकानों पर की छापेमारी

नई दिल्ली। आईसक्रीम बनाने वाली कंपनी क्वालिटी लिमिटेड का नाम एक बड़े बैंकिंग धोखधड़ी में सामने आ रहा है। डेयरी प्रोडक्ट्स कंपनी पर बैंक ऑफ इंडिया के नेतृत्व वाले कंसोर्टियम से कथित धोखाधड़ी कर उसे करीब 1,400 करोड़ रुपये का नुकसान पहुंचाने का आरोप है। इस संबंध में सीबीआई ने क्वालिटी लिमिटेड और उसके निदेशकों के आठ ठिकानों पर छापे मारे। दिसंबर 2018 से कंपनी दिवाला कार्यवाही का सामना कर रही है। दिसंबर 2018 से ही कंपनी दिवाला कार्यवाही का सामना कर रही है।

सूत्रों ने बताया कि सीबीआई ने क्वालिटी लिमिटेड और इसके निदेशकों संजय ढींगरा, सिद्धांत गुप्ता, अरुण श्रीवास्तव के अलावा अन्य अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। सीबीआई के प्रवक्ता ने कहा कि शिकायत में आरोप लगाया गया है कि आरोपियों ने बैंक ऑफ इंडिया के नेतृत्व वाले सहायत संघ को करीब 1400.62 करोड़ रुपये का चूना लगाया। इस सहायता संघ में कैनरा बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, कॉरपोरेशन बैंक, आईडीबीआई, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, धन लक्ष्मी बैंक और सिंडिकेट बैंक भी शामिल हैं।

प्रवक्ता ने बताया कि बैंकों से राशि लेकर इसे दूसरे मद में खर्च कर, संबंधित पक्षों से फर्जी लेन-देन दिखाकर, फर्जी दस्तावेज, रसीद और गलत बहीखाते के जरिए कथित धोखाधड़ी की गई और फर्जी संपत्ति एवं देनदारी आदि दिखाई गई।

सीबीआई ने कंपनी और आरोपियों के दिल्ली, उत्तर प्रदेश के सहारनपुर एवं बुलंदशहर, राजस्थान के अजमेर और हरियाणा के पलवल सहित आठ ठिकानों की तलाशी ली।

इससे पहले सीबीआई ने बैंक ऑफ इंडिया की एक शिकायत पर अपनी जांच शुरू की थी। शिकायत में आरोप लगाया गया था कि क्वालिटी लिमिटेड ने साल 2010 में बैंक से उधार लिया था लेकिन साल 2018 की शुरुआत में भुगतान करना बंद कर दिया। बाद में अगस्त 2018 में खाते को गैर-निष्पादित परिसंपत्ति (एनपीए) के रूप में वर्गीकृत किया गया।


बैंक ने अपनी शिकायत में कहा कि खातों के फोरेंसिक ऑडिट से पता चला है कि कंपनी की ओर से की गई 14 13,147.25 करोड़ की कुल बिक्री में से केवल 7,107.23 करोड़ बैंकों के कंसोर्टियम से होकर निकले थे। कंपनी ने अपने कारोबारी परिचालन के साथ ही अपने फाइनेंसियल स्टेटमेंट को भी खत्म कर दिया। इसके अलावा खातों में रिवर्स एंट्री कर हेराफेरी को अंजाम दिया।

 

Related posts

मेरठ की फैक्‍ट्री में ब्‍लास्‍ट, अब तक 4 लोगों की मौत

samacharprahari

जादुई पत्थर के नाम पर ठगी करने वाले 2 गिरफ्तार

Prem Chand

‘जमशेदजी टाटा 102 अरब डॉलर दान के साथ दुनिया के सबसे बड़े परोपकारी’

samacharprahari

घटिया सामान बेचने पर जुर्माना और जेल का प्रावधान

samacharprahari

ईडी ने पुणे के कारोबारी की जमीन जब्त की

samacharprahari

सीबीआई ने बिल्डर के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की

Girish Chandra